Monday, December 31, 2012

Happy new year - 2013 (photo album)




















    by ;- Ravi kant yadav

हैवानी भेड़िये ( indian shame )

अभी हाल  ही में जो देल्ही  रेप केस हुआ , वह वाकई मनुष्य जात को शर्मसार कर देने वाली घटना है , । जब -जब भी यह घटना होती है , वह महिला एक समय के लिए जिन्दा लाश बन जाती है ,। उसका भविष्य दम तोड़ देता है ,। भारत में यह घटना हर गाँव हर शहर में होती है ,| लेकिन लोक लाज की वजह से 50% बाहर  नहीं आ पाती , । विश्व में वर्तमान में आंकड़ो में तकरीबन 243 देश आते है ,और उनमे रेप में भारत 5वे  से 4थे  नंबर पर आ गया है , । कई गाँवो में तो पंचायते  बलात्कारी से ही शादी का फैसला सुना देती है , । जिस देश में महिलावो की पूजा होती है , वही यह कानून सबसे लचर है , तो स्वभाविक है, यह कुकृत्य भी ज्यादा होगा ,हमारी देवीयों काली ,दुर्गा के आठो हाथो में अस्त्र -शस्त्र  है , तो कानून बनावो ,उसे सुधारो और भारतीय महिलावो के आठो हाथो में ताकत भर दो , मेरा तात्पर्य है , महिलायों के लिए उनके हित में पुरुषो की अपेक्षा आठ  गुना मजबूत कानून संबिधान बने ,लोक सभा को तुरंत आपात बैठक बुला कर बिना हिला -हवाली  के एक मजबूत कानून और सजा महिलावो के हित में हो वह भी कई गुना ज्यादा ।

कई तमाम देशो में चोरी की सजा हाथ काट  देना , स्मगलिंग की सजा सर उड़ा  देना आदि है , । हमारे देश के महानगरो जैसे दिल्ली ,मुंबई आदि में रातो दिन शराब आदि बिकता रहता है , तथा इन पर रोक लगे तथा इनकी नियमित जाँच हो , चेकिंग हो ,।

क्यों की ये हवसी दरिन्दे  हमारी- आपकी बच्चियों का पीछा कर घर तक पहुच जाते है , । यदि इस भारत देश में अभी एक अति सख्त कानून नहीं बना तो फिर शायद ही बने , या फिर एक लड़की को तलवार ,चक्र आदि सौप कर खुद ही सजा देने दो ,।
दिल्ली में साल  भर में 661 रेप केस हुए है , क्या दिल्ली पुलिस सो रही है , या केवल m .p . m .l .a  की रक्षा में व्यस्त है ,?।भारत में 2011 में 24206 रेप केस हुए है, जो इस साल और भी अधिक होगा , औसत के आधार पर देखे तो यह बहुत -बहुत ज्यादा है ,। यानि हर गली और मोहल्ले में यह केस मिलेगा ,।
मैंने पहले ही कहा है , जो कानून नासूर बन जाये ,उसे हटा कर नया -दूसरा कानून बने , कानून स्थिर नहीं होना चाहिए , इसे वर्तमान से चलाना  -जोड़ना चाहिए , यही एक देश के लिए विकास और गर्व की बात होगी ।
जरुरत है  , इन्हें समाज से बहिस्कार कर ,इन हैवानी भेडियो के दांतों को कुतरने की, दिल्ली केस में तो इन्हें शीघ्रतम  फाँसी  हो ।
मेरे परिवार के भी ऐसे अपराधी है ,डब्लू और नन्दलाल पर पुलिस मेरी मदद नहीं कर सकी ।
    लेखक;-देशवासी ...रविकान्त  यादव




Monday, December 24, 2012

सन्यासी..... सचिन (a era of cricket)


एक खिलाड़ी के लिए सबसे बड़ी बात होती है , खुद का आकलन करना , कि वह किस स्तर पर है ,उसका आत्म विश्वास कहा है |

सचिन रमेश तेंडुलकर ने अपना आकलन किया कि अब  वह वन डे योग्य नही रह गये है | और क्रिकेट से  सन्यास ले लिए है , परंतु हम कट्टर प्रसंशक यह जानते हुए भी कि अब सचिन क्रिकेट से सन्यासी हो गये है , लेकिन जी नहीं मानता , काश ये खबर झूठी निकल जाय | परंतु यही सच्चाई है ,ये दिन हर खिलाड़ी के जीवन मे आता है ,| चाहे वह कोई भी हो , किसी भी देश का हो , रिकी पोंटिंग जैसा जिद्दी खिलाड़ी भी हाल के उदाहरण है | हालांकि सचिन सर के  23 साल का योगदान व समय छोटा नहीं है , |

जो भी  हो , सन्यास लेने का कारण समझ नहीं आ रहा , फ़िटनेस ,या फॉर्म मे न होना या चयन न होना ,जो भी हो हम फ़ैन सन्यास को स्वीकार नहीं कर पा रहे है , 'बस एक और शतक बन जाता तो हम सन्यास के लिए खुश होते ,हम अच्छी पारी के साथ विदाई सन्यास चाहते थे ,|'

फिर भी आज सचिन सर के आस -पास आने की कोई खिलाड़ी बहुत कम ही सोच सकता है ,| वर्तमान मे हरफनमौला खिलाड़ी जैक्स कॅलिस जरूर उनके समतुल्य है , | परंतु 100 शतको का गॉड ऑफ क्रिकेट सचिन कोई नहीं है |
हम फ़ैन क्रिकेट के सबसे लंबे लोकप्रिय प्रारूप से आँसुओ के साथ इस हरफनमौला खिलाड़ी को अलविदा कह रहे है ,|सच्चे खिलाड़ी के लिए रेकॉर्ड बनाए नहीं जाते रेकॉर्ड बन जाते है| ........।
                  लेखक ;- फ़ैन..रविकान्त यादव

Monday, November 26, 2012

VARANASI VISION temple & durga pooja by Ravi kant yadav

                                                                         manas mandir


                                                  manas mandir
                                                 manas mandir

           
                                                                                       manas mandir
                                                           agni pariksha                         manas mandir

                                                                       
                                                                                                       manas mandir   
                                                                                         manas mandir
                                                                                                  manas mandir
                                                                                           manas mandir
                                                                                                 manas mandir
                                                                                                   manas mandir
                                                                                                     manas mandir     
                                                                                             manas mandir
                                                                                              manas mandir
                                                           b.h.u. temple
                                                                                                      b.h.u. temple
                                                       krishna birth     day               b.h.u. temple
                                                                                     b.h.u. temple 

                   b.h.u. temple

                                                                                   b.h.u. temple
                                                                                                 b.h.u. temple
                                                                                                      b.h.u. temple

                                                              peacock in b.h.u. agriculture
                                           i.t. pond
                                 i.t. pond
                            innocent babies
                                                                  art
                                          b.h.u. head nursery and cloud

                                                          hatuwa market pandal
                                                                                          hatuwa market pandal
                                                                      hatuwa market pandal
                                                                                      hatuwa market pandal
                                                                              hatuwa market pandal
                                                   other pandal
                                                                            other pandal
                                                    sanatan dharm pandal
                       b.h.u. temple peacefull
                sanatan dharm pandal
                                                          sanatan dharm pandal
                sanatan dharm pandal
                                           hatuwa market pandal
                                                                                       hatuwa market pandal
                                                                                     hatuwa market pandal
                                                jait pura pandal village scence
 jait pura pandal village scence
                                                         machhodri pandal
                      machhodri pandal
                      machhodri pandal
                                                   assi ghat





                         assi ghat
                                                                                         assi ghat
                                                     mango tree with fruit
                                      an evening in varanasi
                                                                           an evening in varanasi
                                                                                an evening in varanasi.......................presented by ravi kant yadav